{Republic Day Songs} in Hindi, Tamil, Telugu, Marathi

By // No comments:
Republic Day Songs in Hindi, Tamil, Telugu:- As you all know that republic day is all around the corner. As 26 January will come you will hear songs on republic day all around you. Whether it’s radio, TV, or any other media, all surroundings will filled with patriotic songs. Thus, if you want to make this republic day special you can play various republic day special songs. Apart from latamangeshkar republic day songs, now you will see various republic day new songs are rocking patriotic theme. Keeping the importance of 26 january republic day songs that helps an individual to fulfil himself with patriotism, we are attempting to an entire list of desh bhakti songs. Our latest republic day songs list includes various songs related to republic day such as Chak De India, Rang De Basanti, and much more to go with.



republic day songs in hindi

However, apart from song on republic day in hindi our collection of happy republic day songs includes republic day songs in hindi, republic day songs in tamil, and republic day songs in telugu. Thus, all visitors who are in search of best republic day telugu songs will get all telugu republic day songs that want to download. Thus, if you want to download republic day hindi songs then you don’t have to worry much. Simply go for republic day songs mp3 free download to get best independence day songs hindidesh bhakti. If you want to scroll for more republic day song in hindi then either go with indiandesh bhakti songs download or new desh bhakti song download. This will bring some of best 26 january dance song along with republic day video songs for you.




republic day songs in tamil 



आज नई सज-धज से
गणतंत्र दिवस फिर आया है।
नव परिधान बसंती रंग का
माता ने पहनाया है।

भीड़ बढ़ी स्वागत करने को
बादल झड़ी लगाते हैं।
रंग-बिरंगे फूलों में
ऋतुराज खड़े मुस्काते हैं।

धरनी मां ने धानी साड़ी पहन...



happy republic day songs

अभिनन्दन गणतन्त्र तुम्हारा वंदन है गणतन्त्र
उन्नत भारत भाल सुशोभित चंदन है गणतन्त्र
-
नील गगन में फहरे खुलकर अपना सीना तान
याद दिलाये हमें तिरंगा वीरों का बलिदान
हँसते हँसते हुये देश के खातिर जो कुर्बान
लेकिन भारत माँ की रखी आन बान और शान
-
प्रगति शिखर पर चढ़े सहज वह स्यंदन है गणतन्त्र
उन्नत भारत भाल सुशोभित चंदन है गणतन्त्र
-
समता समरसता समाज की संविधान का मूल
न्याय नीति आदर्श समन्वित हर विधान अनुकूल
सहज धर्म कर्त्तव्य करें हम राग द्वेष सब भूल
चलो हटायें मानवता के पथ पर बिखरे शूल
-
निखर गया जो तप तप कर वह कुंदन है गणतन्त्र
उन्नत भारत भाल सुशोभित चंदन है गणतन्त्र


independence day songs hindi desh bhakti


दशकों से गणतन्त्र पर्व पर, राग यही दुहराया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।।

सिसक रहा जनतन्त्र हमारा, चलन घूस का जिन्दा है,
देख दशा आजादी की, बलिदानी भी शर्मिन्दा हैं,
रामराज के सपने देखे, रक्षराज ही पाया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।१।

ये कैसा जनतन्त्र? जहाँ पर जन-जन में बेकारी है,
जनसेवक तो मजा लूटता, पर जनता दुखियारी है,
आज दलाली की दलदल में, सबने पाँव फँसाया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।२।

आज तस्करों के कब्ज़े में, नदियों की भी रेती है,
हरियाली की जगह, खेत में कंकरीट की खेती है,
अन्न उगाने वाले, दाता को अब दास बनाया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।३।

गाँवों की खाली धरती पर, चरागाह अब नहीं रहे,
बोलो कैसे अब स्वदेश में, दूध-दही की धार बहे,
अपनी पावन वसुन्धरा पर, काली-काली छाया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।४।

मुख में राम बगल में चाकू, हत्या और हताशा है,
आशा की अब किरण नहीं है, चारों ओर निराशा है,
सुमन नोच कर काँटों से, क्यों अपना चमन सजाया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।५।

आयेगा वो दिवस कभी तो, जब सुख का सूरज होगा,
पंक सलामत रहे ताल में, पैदा भी नीरज होगा,
आशाओं से अभिलाषाओं का, संसार सजाया है।
दशकों से गणतन्त्र पर्व पर, राग यही दुहराया है।
होगा भ्रष्टाचार दूर, बस मन में यही समाया है।६।


indiandesh bhakti songs download


हरी नीली लाल पीली
बड़ी बड़ी तेज़ रफ्तार मोटरें
और उनके बीच दबा,
सहमा, डरा सा
आम आदमी

हरे भरे लहराते बड़े बड़े
पेडो के नीचे बिखरी पन्निया
बारिश की प्रदुषण धुली बूँदें
आँखों से बरसती

सड़क पर चाय के ठेले पर
वही बुढ़िया और
चाय पहुचता
वही छोटू

स्कूल से निकलता अल्हड, मस्त
किल्कारिया भरता बचपन
और पास ही सड़क पर
भीख मांगते नन्हे,
असमय बड़े हो चुके
छोटे बच्चे

पाँच सितारा अस्पताल का
उद्घाटन करते प्रधान मंत्री
की तस्वीर को घूरती
सरकारी अस्पताल में
बिना इलाज मरे शिशु की लाश

और इन सबको
कर उपेक्षित
विकास के दावो की होर्डिंग निहारता मैं
मन में दृढ़ करता चलता विश्वास
की हाँ २०२० में

हम विकसित हो ही जाएँगे
दिल को बहलाने को ग़ालिब………..

republic day special songs

एक क्रांति तो पहले हुई थी गोरों को मार भागने की |
एक क्रांति की आज जरुरत जनगण मन को जगाने की ||

चले गए अँग्रेज मगर अंग्रेजीपन को छोड़ गए |
शासन प्रशासन में अपने पुतले वंशज छोड़ गए |
वैसी भाषा वैसी बानी खानपान भी वैसा है |
लूटपाट का वही तरीका अकड़ फिरंगी जैसा है ||

इनको कोई कुछ कह दे तो आदत इनकी गुर्राने की |
एक क्रांति की आज जरुरत जनगण मन को जगाने की ||

रोज शहीद हुआ करते हैं सैनिक सीमाओं पर ,
फिर भी दिल्ली क्यों चुप दिखती ऐसी घटनाओं पर ?
बस केवल दो चार दिवस अफ़सोस जताया जाता है |
उनकी वीर कथाओं का गुणगान सुनाया जाता है ||

भाषण- भूषण दौड़ा- दौड़ी जनता को बस दिखलाने की |
एक क्रांति की आज जरुरत जनगण मन को जगाने की ||

आज तिरंगा जाने क्यों मायूस दिखाई पड़ता है ?
राष्ट्रगान में शौर्य नहीं अब शोर सुनाई पड़ता है |
लोकतंत्र की अरथी उठती मगर किसे परवाह है |
अपनी कुरसी रहे सलामत नहीं और कुछ चाह है ||

रोज- रोज वादे करते जनता को फिर से फुसलाने की |
एक क्रांति की आज जरुरत जनगण मन को जगाने की ||

भ्रष्ट्राचार और अनाचार से धरा हो गई है बोझिल |
प्रेम और सौहार्द्र से सूखे सभ्य जनों के दिखते दिल |
इज्ज़त बे-इज्ज़त होने में कोई समय नहीं लगता है |
अपराधी सीना ताने अब कानून को गाली देता है ||

क्या यही था भारत का सपना जिस पर मर मिटजाने की ?
एक क्रांति की आज जरुरत जनगण मन को जगाने की ||

कवि एवम् साहित्यकार-राम चंदर 'आजाद'
ज.न.वि.झालावाड़ ,राजस्थान


republic day songs mp3 free download

जय हिन्द, जय हिन्द ,
जय जय हिन्दुस्तान ,
कदम कदम पर आगे रहता,
भारत भाग्य महान ,,
आज दिवस गणतंत्र मनाएं ,
जन जन भागीदार बनें ,
सबकी हलचल एक साथ हो ,
सबकी शक्ति , सबका हाथ हो ,
विकसित होते अरमानो को ,
हर आँखों का ख़्वाब बुने ,
इस जहान में सबसे आगे ,
मेरा हिन्दुस्तान बढे


republic day songs list

तिरंगा झंडा हमको प्यारा, यह भारत की शान है,
दुनियां में है सबसे न्यारा, मानवता अभियान है.
ध्वज का प्रथम रंग केसरिया, संस्कृति का यह ताज है,
ज्ञान, शक्ति,बलिदान, त्याग का, छुपा इसी में राज है.
सूर्योदय का रंग लालिमा, शक्ति, ज्ञान संचार करे,
सकल विश्व को ऊर्जा देता, जीवन से अंधकार हरे.
सन्यासी का रंग केसरिया, लोभ, मोह का त्याग करे,
दुनिया को सद्मार्ग दिखाए, भ्रातृभाव, अनुराग भरे.
केसरिया रंग परवानों का, वीरों का बलिदान है,
तिरंगा झंडा हमको प्यारा, यह भारत की शान है.
श्वेत रंग झंडे का देता, शांति-संधि सन्देश है,
विश्व कुटुंब का स्वप्न हमारा, शांति से ही परिवेश है.
श्वेत रंग है क्रांति दूध की, दूध की शक्ति महान है,
तिरंगा झंडा हमको प्यारा, यह भारत की शान है.
हरा रंग कृषि की हरियाली, जीवों का आहार है,
जीवन चलता है भोजन से, यही विश्व आधार है.
वायु प्रदूषण मुक्त करें, वृक्षों से ही जहान है,
तिरंगा झंडा हमको प्यारा, यह भारत की शान है.
चक्र तिरंगे ध्वज में चलता, धर्म, अहिन्सा, प्रेम का,
भारत का सन्देश रहा है, सबके कुशल और क्षेम का.
ध्वज-सन्देश धरें हम दिल में, यह भारत की आन है,
तिरंगा झंडा हमको प्यारा, यह भारत की शान है.
दुनियां में है सबसे न्यारा, मानवता अभियान है.


republic day video songs


republic day songs in telugu

भारत की संस्कृति का संगम।
तीन रंग का अपना परचम ।

केशरिया कश्मीर की घाटी
की सोंधी सी रंगत लेकर ।
वीर बहादुर पथ पर बढ़ते
बलिदानो की चाहत लेकर ।

रोज परखता दुश्मन का दम ।
तीन रंग का अपना परचम ।।

गंगा की पावनता के संग ।
हिमगिर की हिमवान धवलता।
धवल धवल यह बिजली दौड़ी
हर सैनिक में बनी चपलता।

दुनिया इसका करती अनुगम ।
तीन रंग का अपना परचम।।

खेतों की हरियाली लेकर
हर मन को खुशहाल किया है ।
खून पसीना बहा श्रमिक ने
देश को मालामाल किया है ।।

खुशहाली यह हो ना कम ।
कहता हमसे यह परचम ।

धवल रंग में चक्र सुदर्शन ।
गति का मान बताता है ।
हर पल चलता कभी न रुकता
आगे बढ़ता जाता है ।।

गति जीवन की जाये न थम
कहता हमसे यह परचम ।

तीन रंग में मेल न हो तो ।
एक रहेगा देश कहाँ ।।
कदम मिला कर चलना ही है
परचम का सन्देश यहाँ

भिन्न हों लेकिन एक रहें हम ।
कहता हमसे यह परचम ।।

desh bhakti songs indian

हम बच्चे भारत की शान ।
हम बच्चे भारत की शान ।।
सत्कर्मों से चलो बढ़ाएं
भारत माँ का हम सम्मान
हम बच्चे भारत की शान ।
हाथ तिरंगा लेकर आओ ।
दुनिया भर में फहराएं ।
भारत माँ की महिमा क्या है ।
ये दुनियां को समझाएं ।
सारे जग में सबसे आगे
होगा अपना हिन्दुस्तान
हम बच्चे भारत की शान ।
चाहे खेल कूद की दुनिया ।
चाहे दुश्मन से हो जंग ।
सबसे ऊंचे रहें जगत में
राष्ट्र ध्वजा के तीनो रंग ।
राष्ट्र ध्वजा है बड़ी महान
हम बच्चे भारत की शान


songs for republic day

Her shahergaongali,
Veeronkitolichali,
Gantantra divas aya,
Rashtra bhakti lagebhali.

Tirangafaharaya,
Gagan men laharaya,
Garva se unchamastak,
Deshprem man bhaya.

Desh se ham pyarkaren,
Sabakasatkarkaren,
Failekhyatiduniyamen ,
Aisavyavharkaren.


songs on republic day

Ganmtantra divas aya,
Man sabakaharshaya,
Mahamahimrashtrapati ne,
Rashtradhwajfaharaya.

Bharat kasamvidhan,
Sabakodetapahachan,
Mooladhikarsabako,
Detanyaikvidhan.

Sajdhajkar aye bachche.
Man men hainbhavsachche,
Dil men sachchaibanen,
Nagarikmahanachchhe.

Sunder pared badi,
Prantonkijhankisaji,
RajdhaniJagamagai ,
Rajpath per hui rally.


26 january dance song 


भारत की क्यारी-क्यारी पर
इसकी महकी फुलवारी पर,
इसके खेतों, खलिहानों पर
इसकी मोहक मुस्कानों पर,
जन्मसिद्ध अधिकार हमारा।
हमें वतन प्राणों से प्यारा।।
अरे विदेशी इधर न आना
मत इसकी मुस्कान चुराना,
आजादी के हम दीवाने
चलते हरदम सीना ताने,
हमको याद तिलकका नारा।
हमें वतन प्राणों से प्यारा।।

26 january republic day songs

Kabhi nahi ghabraaye

Drin pratigya ho badhane waale,
kabhi nahi ghabraate.
hum Bharat ke nanhe munne,
bachche bhole bhaale.
maa ke raajdulaare hain hum,
Bharat ke rakhwaale.
maa ke charno mein nishidin hum,
apana shish jhukaate. kabhi nahi...



padhana ho ya ladana bhidana,
kaam sabhi hum karte.
aayein kitani bhi badhaayein,
nahi kisi se darte.
sachche singh sapoot saahasi,
apani raah banaate. kabhi nahi...



Humein pata hai iss duniya ki,
khatti mithi batein.
andhiyaaron mein kaati humne,
jaane kitani raatein.
raah kathin ho chaahe jitani,
aage badhte jaate. kabhi nahin...



josh bhara hai mann mein itna,
jyon sagar mein paani.
saara jag ye jaane kaisa,
bachche Hindustani.
jo haath thaan liya mann mein wah,
poora kar dikhaane.
kabhi nahin...



Drin pratigya ho badhane waale,
kabhi nahi ghabraate.



By ~ Dr. Parshuram Shukla


indian republic day song


Bharat Ke Rakhwale

Hum dharmveer, hum karmveer,
hum yudhveer, Bharatwasi.
karte hum garv ahinsa par,
hum shantiveer Bharatwasi.





Hum hain saahas, himmat waale,
hum aafat ke parkaale hain.
hum toofano se takraate,
hum Bharat ke rakhwale hain.





Humne pairon se ronda hai,
parvat ke unche shikhron ko.
aur machalna sikhlaaya hai,
sagar ki chanchal leharon ko.





Hum dekh nahi ghabraate hain,
aayein kitani bhi baadhayein,
hum aage badhate jaate hain,
jab tak manjil na paa jaayein.

Hum saral hirdya hum kaaljayi,

mann mein rakhte Kaaba Kashi,

hum dharmveer, hum karmveer
hum yudhveer bharatwasi.



By ~ Dr. Parshuram Shukla


latamangeshkar republic day songs 



Let My Country Awake

Where the mind is without fear
and the head is held high;
Where knowledge is free;
Where the world has not been
broken up into fragments by
narrow domestic walls;
Where the words come out from
the depth of truth;
Where tireless striving stretches
its arms towards perfection;
Where the clear stream of reason
has not lost its way into the dreary
desert sand of dead habit;
Where the mind is led forward by thee
into ever-widening thought and action -
Into that heaven of freedom, my Father,
let my country awake.



By ~ Anonymous

list of desh bhakti songs


newdesh bhakti song download


republic day hindi songs




republic day new songs


republic day song in hindi


republic day telugu songs


song on republic day in hindi


songs related to republic day


telugu republic day songs marathi


Final Thoughts:-

If you like our post containing indian republic day song under the tags songs for republic day and desh bhakti songs indian then don’t forget to share this page to your social media networks.

Also Read:-

Gantantra Diwas Essay, Kavita, Poems, Speech In Hindi

Happy Republic Day Messages - 26 January Message

Short Poem On Republic Day In Hindi - Patriotic, Desh Bhakti Poems

Happy Republic Day Quotes In Hindi - Republic Day Quotes In English

26 January Republic Day SMS In Hindi, English

Happy Republic Day Messages In English - Republic Day Wishes In English

26 January Republic Day Speech In Hindi For School Students

26 January Happy Republic Day Poems In Hindi

26 January Poem On Republic Day For Kids

Short Poems On Republic Day In Hindi & English

Short Speech On Republic Day In Hindi & English

Welcome Speech For Republic Day Celebration

26 January Happy Republic Day Quotes In Tamil, Telugu, Marathi

26 January Happy Republic Day Shayari In Hindi, English

Happy Republic Day Wishes - 26 January Wishes

Republic Day Speech In English For Teachers 2017



Essay On Republic Day In English For Kids Of Class 1-10

Incoming Search Terms:-
republic day songs
song on republic day in hindi
republic day songs in english
songs on republic day in hindi
songs of republic day in hindi
welcome song for 26 january
songs for republic day in hindi
welcome song for republic day
republic day song
republic day song in english
republic day ke liye song
republic day song for kids
songs on republic day in english
republic day songs in telugu
songs on republic day
republicday songs
song on republic day in english
republic day english song
hindi republic day songs
republic day 2017 songs
welcome song on republic day
song of republic day in hindi
26 january ke liye song
song for republic day in hindi
song for republic day in english

{Republic day speech} in Hindi, Marathi, Gujarati, Tamil, Telugu, Urdu, Bengali, Malayalam

By // No comments:
Republic day speech in Hindi, Marathi, Gujarati, Tamil, Telugu, Urdu, Bengali, Malayalam:- First of all, a very happy republic day in advance…This time we are going to celebrate our 68th republic day. That’s made us to come with a new republic day speech post. India is group of various communities, people with different religions, taste, and language stays there, and that’s make us a beautiful nation where different communities live with unity. The country where so many language were spoken then how can focus on presenting 26 january speech in hindi language only. However, keeping other language in consideration, apart from indian patriotic speech in hindi and speech of republic day in hindi, we are presenting speech in other regional languages. For example, you will find speech of republic day in Punjabi, speech of republic day in telugu, speech of republic day in Bengali, speech of republic day in Marathi, speech of republic day in Malayalam, and much more to go. Even this time our republic day speech post includes speech of republic day in urdu, speech of republic day in tamil, and speech of republic day in Sanskrit for the very first time. This attempt was taken so that each individual who belongs to our country can express his zest of patriotism in their own language. 




speech of republic day in hindi

We hope our attempt to present best republic day speech will sure help you to get what made you to visit this page. If you like our republic day speech post where you will come across republic day speech in telugu language, republic day speech in marathi language, republic day speech in malayalam language, republic day speech in gujarati language, republic day speech in bengalilanguage, republic day speech in urdu language, republic day speech in punjabi language, speech in hindi on republic day, and republic day speech in tamil language, then don’t forget to share it on social media platforms.



speech of republic day in punjabi 

26 जनवरी 1950, पूरा भारतवर्ष हर साल इस दिन को बड़े धूमधाम से मनाता है क्योंकि इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। 26 जनवरी 1950 के इस खास दिन पर भारतीय संविधान ने शासकीय दस्तावेजों के रुप में भारत सरकार के 1935 के अधिनियम का स्थान ले लिया। भारत सरकार द्वारा इस दिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया है। भारत के लोग इस महान दिन को अपने तरीके से मनाते है। इस दिन पर भारत के राष्ट्रपति के समक्ष नई दिल्ली के राजपथ (इंडिया गेट ) पर परेड का आयोजन होता है।



best patriotic speech in hindi

जब पहली बार भारत को अपना संविधान मिला तब से भारत हर साल 26 जनवरी 1950 से गणतंत्र दिवस का उत्सव मना रहा है भारतीय इतिहास में गणतंत्र दिवस का बहुत महत्व है क्योंकि ये हमें भारतीय स्वतंत्रता से जुड़े हर-एक संघर्ष के बारे में बताता है। भारत की पूरी आजादी (पूर्णं स्वराज) की प्राप्ति के लिये लाहौर में रावी नदी के किनारे 1930 में इसी दिन भारत की आजादी के लिये लड़ने वाले लोगों ने प्रतिज्ञा की थी। जो 15 अगस्त 1947 को साकार हुआ।

26 जनवरी 1950 को, हमारा देश भारत संप्रभु, धर्मनिरपेक्ष, समाजवादी, और लोकतांत्रिक, गणराज्य के रुप में घोषित हुआ अर्थात भारत पर खुद का राज था उस पर कोई बाहरी शक्ति शासन नहीं करेगी। इस घोषणा के साथ ही दिल्ली के राजपथ पर भारत के राष्ट्रपति के द्वारा झंडा फहराया गया साथ ही परेड तथा राष्ट्रगान से पूरे भारत में जश्न का माहौल शुरु हो गया।


indian patriotic speech in hindi  


गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है । यह दिवस भारत के गणतंत्र बनने की खुशी में मनाया जाता है । 26 जनवरी, 1950 के दिन भारत को एक गणतांत्रिक राष्ट्र घोषित किया गया था । इसी दिन स्वतंत्र भारत का नया संविधान अपनाकर नए युग का सूत्रपात किया गया था । यह भारतीय जनता के लिए स्वाभिमान का दिन था । संविधान के अनुसार डॉ. राजेन्द्र प्रसाद स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति बने । जनता ने देश भर में खुशियाँ मनाई । तब से 26 जनवरी को हर वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा है ।

26 जनवरी का दिन भारत के लिए गौरवमय दिन है । इस दिन देश भर में विशेष कार्यक्रम होते हैं । विद्‌यालयों, कार्यालयों तथा सभी प्रमुख स्थानों में राष्ट्रीय झंडा तिरंगा फहराने का कार्यक्रम होता है । बच्चे इनमें उत्साह से भाग लेते हैं । लोग एक-दूसरे को बधाई देते हैं । स्कूली बच्चे जिला मुख्यालयों, प्रांतों की राजधानियों तथा देश की राजधानी के परेड में भाग लेते हैं । विभिन्न स्थानों में सांस्कृतिक गतिविधियाँ होती हैं । लोकनृत्य, लोकगीत, राष्ट्रीय गीत तथा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम होते हैं । देशवासी देश की प्रगति का मूल्यांकन करते हैं ।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य कार्यक्रम राजधानी दिल्ली में होता है । विजय चौक पर मंच बना होता है तथा दर्शक दीर्घा होती है । राष्ट्रपति अपने अंगरक्षकों के साथ यहाँ पधारते हैं और राष्ट्रध्वज फहराते हैं । उन्हें 21 तोपों की सलामी दी जाती


26 january speech in hindi language


गणतंत्र दिवस को 26 जनवरी भी कहा जाता है जो कि हर साल मनाया जाता है ये दिन हर भारतीयों के लिये मायने रखता है क्योंकि इसी दिन भारत को एक गणतांत्रिक देश घोषित किया गया था साथ ही आजादी के लंबे संघर्ष के बाद भारतीयों को अपनी कानूनी किताब संविधानकी प्राप्ति हुई थी। 15 अगस्त 1947 को भारत आजाद हुआ और इसके ढ़ाई साल बाद ये लोकतांत्रिक गणराज्य के रुप में स्थापित हुआ।

आजादी के बाद एक ड्राफ्टिंग कमेटी को 28 अगस्त 1947 की मीटिंग में भारत के स्थायी संविधान का प्रारुप तैयार करने को कहा गया। 4 नवंबर 1947 को डॉ बी.आर.अंबेडकर की अध्यक्षता में भारतीय संविधान के प्रारुप को सदन में रखा गया। इसे पूरी तरह तैयार होने में लगभग तीन साल का समय लगा और आखिरकार इंतजार की घड़ी 26 जनवरी 1950 को इसको लागू होने के साथ ही खत्म हुई। साथ ही पूर्णं स्वराज की प्रतिज्ञा का भी सम्मान हुआ।

भारत में गणतंत्र दिवस का दिन राष्ट्रीय अवकाश के रुप में मनाया जाता है जब इस महान दिन का उत्सव लोग अपने-अपने तरीके से मनाते है, जैसे- समाचार देखकर, स्कूल में भाषण के द्वारा या भारत की आजादी से संबंधित किसी प्रतियोगिता में भाग लेकर आदि। इस दिन भारतीय सरकार द्वारा नई दिल्ली के राजपथ पर बहुत बड़ा कार्यक्रम रखा जाता है, जहाँ झंडारोहड़ और राष्ट्रगान के बाद भारत के राष्ट्रपति के समक्ष इंडिया गेट पर भारतीय सेना द्वारा परेड किया जाता है

republic day speech in malayalam language

इस अश्रद्धा का कारण हमारा संविधान नहीं है। माओवादी जैसे पूर्वोत्तर के अन्य संगठन आज भी यदि सक्रिय है तो कारण सिर्फ इतना है कि भ्रष्ट गैर जिम्मेदार राजनीतिज्ञों और अपराधियों के चलते उनका लोकतंत्र से... हमें विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश होने का गर्व है। हमारा लोकतंत्र धीरे-धीरे परिपक्व हो रहा है। हम पहले से कहीं ज्यादा समझदार होते जा रहे हैं। धीरे-धीरे हमें लोकतंत्र की अहमियत समझ में आने लगी...  हमारा समाज परिवर्तित हो रहा है। मीडिया जाग्रत हो रही है। जनता भी जाग रही है। युवा सोच का विकास हो रहा है। शिक्षा का स्तर बढ़ रहा है। टेक्नोलॉजी संबंधी लोगों की फौज बढ़ रही है। इस सबके चलते अब देश का..!



भारत मजबूत लोकतंत्र है। यह गर्व करने लायक उपलब्धि है। बहुत सारे विदेशी प्रेक्षकों का मानना था कि भारत एक देश के रूप में ज्यादा समय तक टिक नहीं पाएगा या भाषायी समूह अपने अलग राष्ट्र की मांग करेगा और...आज हमारे देश के सामने कई समस्याएं हैं। उनमें से बड़ी है बेरोजगारी की समस्या। बेरोजगारी के कारण देश के युवकों-युवतियों में भारी असंतोष और बेचैनी पाई जाती है। देश की आवश्यकताओं के अनुसार शिक्षा प्रणाली...


speech of republic day in tamil


सदियों की गुलामी के पश्चात 15 अगस्त सन् 1947 के दिन आजाद हुआ। पहले हम अंग्रेजों के गुलाम थे। उनके बढ़ते हुए अत्याचारों से सारे भारतवासी त्रस्त हो गए और तब विद्रोह की ज्वाला भड़की और देश के अनेक वीरों ने प्राणों की बाजी लगाई, गोलियां खाईं और अंतत: आजादी पाकर ही चैन ‍लिया। इस दिन हमारा देश आजाद हुआ, इसलिए इसे स्वतंत्रता दिवस कहते हैं।

हमारी राजधानी दिल्ली में हमारे प्रधानमंत्री लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं। वहां यह त्योहार बड़ी धूमधाम और भव्यता के साथ मनाया जाता है। सभी शहीदों को श्रद्धां‍जलि दी जाती है। प्रधानमंत्री राष्ट्र के नाम संदेश देते हैं। अनेक सभाओं और कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

गणतंत्र दिवस, 26 जनवरी को ही क्यों मनाते हैं? मित्रों, जब अंग्रेज सरकार की मंशा भारत को एक स्वतंत्र उपनिवेश बनाने की नजर नही आ रही थी, तभी 26 जनवरी 1929 के लाहौर अधिवेशन में जवाहरलाल नेहरु जी की अध्यक्षता में कांग्रेस ने पूर्णस्वराज्य की शपथ ली। पूर्ण स्वराज के अभियान को पूरा करने के लिये सभी आंदोलन तेज कर दिये गये थे। सभी देशभकतों ने अपने-अपने तरीके से आजादी के लिये कमर कस ली थी। एकता में बल है, की भावना को चरितार्थ करती विचारधारा में अंग्रेजों को पिछे हटना पङा। अंतोगत्वा 1947 को भारत आजाद हुआ, तभी यह निर्णय लिया गया कि 26 जनवरी 1929 की निर्णनायक तिथी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनायेंगे।

हम अपने घर में चैन से इसीलिए रह पाते हैं क्यूंकि हमारे घर में हमारी मर्जी चलती है. हम जो चाहते हैं अपने घर में कर पाते हैं. ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि हमारे घर में हमारे अपने कानून और नियम होते हैं. इसी तरह एक देश की आजादी उसका संविधान नियंत्रित करता है. देश तभी जाकर पूर्ण आजाद माना जाता है जब वह गणतांत्रिक होता है. आज भारत की संप्रभुता, गर्व, नागरिक उन्नयन व लोकतंत्र का सबसे महत्वपूर्ण दिवस मनाया जा रहा है. 26 जनवरी, 1950 को ही देश के संविधान को लागू किया गया था. तब से आज तक इस दिन को देश गणतंत्र दिवस के तौर पर मनाता है.

speech of republic day in urdu

26 जनवरी आजादी से पहले भी देश के लिए एक अहम दिन था. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 1930 के लाहौर अधिवेशन में पहली बार तिरंगे झंडे को फहराया गया था परंतु साथ-साथ एक और महत्वपूर्ण फैसला इस अधिवेशन के दौरान लिया गया. इस दिन सर्वसम्मति से यह फैसला लिया गया था कि प्रतिवर्ष 26 जनवरी का दिन पूर्ण स्वराज दिवसके रूप में मनाया जाएगा. इस दिन सभी स्वतंत्रता सेनानी पूर्ण स्वराज का प्रचार करेंगे. इस तरह 26 जनवरी अघोषित रूप से भारत का स्वतंत्रता दिवस बन गया था.

डा. भीमराव अम्बेडकर की अध्यक्षता में बनाया गया भारतीय संविधान 395 अनुच्‍छेदों और 8 अनुसूचियों के साथ दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान था जो और भी विस्तृत हो चुका है. 26 जनवरी, 1950 को संविधान के लागू होने के साथ सबसे पहले डॉ. राजेन्‍द्र प्रसाद ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार हाल में भारत के प्रथम राष्‍ट्रपति के रूप में शपथ ली और इसके बाद राष्‍ट्रपति का काफिला 5 मील की दूरी पर स्थित इर्विन स्‍टेडियम पहुंचा जहां उन्‍होंने राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराया. और तब से ही इस दिन को राष्ट्रीय पर्व की तरह मनाया जाता है. किसी भी देश के नागरिक के लिए उसका संविधान उसे जीने और समाज में रहने की आजादी देता है. इस तरह गणतंत्र दिवस और संविधान की उपलब्धता काफी अधिक है.

गणतंत्र दिवस की परेड आज विश्व भर में भारत की पहचान बनकर उभरी है. गणतंत्र दिवस को भारत की शक्ति का असली परिचय मिलता है. सेना, सशस्त्र बलों और सांस्कृतिक कार्यक्रमों से सुसज्जित यह परेड आज भारत का गौरव गान करती है. गणतंत्र दिवस की परेड की खूबसूरती और उसका अहमियत को शब्दों में लिख पाना बेहद मुश्किल है.

republic day speech in telugu language


गणतन्त्र (गण+तंत्र) का अर्थ है, जनता के द्वारा जनता के लिये शासन। इस व्यवस्था को हम सभी गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। वैसे तो भारत में सभी पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाते हैं, परन्तु गणतंत्र दिवस को राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाते हैं। इस पर्व का महत्व इसलिये भी बढ जाता है क्योंकि इसे सभी जाति एवं वर्ग के लोग एक साथ मिलकर मनाते हैं।

गणतंत्र दिवस, 26 जनवरी को ही क्यों मनाते हैं? मित्रों, जब अंग्रेज सरकार की मंशा भारत को एक स्वतंत्र उपनिवेश बनाने की नजर नही आ रही थी, तभी 26 जनवरी 1929 के लाहौर अधिवेशन में जवाहरलाल नेहरु जी की अध्यक्षता में कांग्रेस ने पूर्णस्वराज्य की शपथ ली। पूर्ण स्वराज के अभियान को पूरा करने के लिये सभी आंदोलन तेज कर दिये गये थे। सभी देशभकतों ने अपने-अपने तरीके से आजादी के लिये कमर कस ली थी। एकता में बल है, की भावना को चरितार्थ करती विचारधारा में अंग्रेजों को पिछे हटना पङा। अंतोगत्वा 1947 को भारत आजाद हुआ, तभी यह निर्णय लिया गया कि 26 जनवरी 1929 की निर्णनायक तिथी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनायेंगे।

26 जनवरी, 1950 भारतीय इतिहास में इसलिये भी महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि भारत का संविधान, इसी दिन अस्तित्व मे आया और भारत वास्तव में एक संप्रभु देश बना। भारत का संविधान लिखित एवं सबसे बङा संविधान है। संविधान निर्माण की प्रक्रिया में 2 वर्ष, 11 महिना, 18 दिन लगे थे। भारतीय संविधान के वास्तुकार, भारत रत्न से अलंकृत डॉ.भीमराव अम्बेडकर प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे। भारतीय संविधान के निर्माताओं ने विश्व के अनेक संविधानों के अच्छे लक्षणों को अपने संविधान में आत्मसात करने का प्रयास किया है। इस दिन भारत एक सम्पूर्ण गणतान्त्रिक देश बन गया।देश को गौरवशाली गणतन्त्र राष्ट्र बनाने में जिन देशभक्तो ने अपना बलिदान दिया उन्हे याद करके, भावांजली देने का पर्व है, 26 जनवरी।

मित्रो, भारत से व्यपार का इरादा लेकर अंग्रेज भारत आये थे, लेकिन धीरे -धीरे उन्होने यहाँ के राजाओं और सामंतो पर अपनी कूटनीति चालों से अधिकार कर लिया। आजादी कि पहली आग मंगल पांडे ने 1857 में कोलकता के पास बैरकपुर में जलाई थी, किन्तु कुछ संचार संसाधनो की कमी से ये आग ज्वाला न बन सकी परन्तु, इस आग की चिंगारी कभी बुझी न थी। लक्ष्मीबाई से इंदिरागाँधी तक, मंगल पांडे से सुभाष तक, नाना साहेब से सरदार पटेल तक, लाल(लाला लाजपत राय), बाल(बाल गंगाधर तिलक), पाल(विपिन्द्र चन्द्र पाल) हों या गोपाल, गाँधी, नेहरु सभी के ह्रदय में धधक रही थी। 13 अप्रैल 1919 की (जलिया वाला बाग) घटना, भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की सबसे अधिक दुखदाई घटना थी। जब जनरल डायर के नेतृत्व में अंग्रेजी फौज ने गोलियां चला के निहत्थे, शांत बूढ़ों, महिलाओं और बच्चों सहित सैकड़ों लोगों को मार डाला था और हज़ारों लोगों को घायल कर दिया था। यही वह घटना थी जिसने भगत सिंह और उधम सिंह जैसे, क्रांतीकारियों को जन्म दिया। अहिंसा के पुजारी हों या हिंसात्मक विचारक क्रान्तिकारी, सभी का ह्रदय आजादी की आग से जलने लगा। हर वर्ग भारतमात के चरणों में बलिदान देने को तत्पर था।

speech in hindi on republic day

हर साल 26 जनवरी को भारत अपना गणतंत्र दिवस मनाता है क्योंकि इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। इसे हम सभी राष्ट्रीय पर्व के रुप में मनाते है और इस दिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया है। इसके अलावा गाँधी जयंती और स्वतंत्रता दिवस को भी राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया है। भारतीय संसद में भारत के संविधान के लागू होते ही 26 जनवरी 1950 को हमारा देश पूरी तरह से को लोकतांत्रिक गणराज्य बन गया।

इस महान दिन पर भारतीय सेना द्वारा भव्य परेड किया जाता है जो सामान्यत: विजय चौक से शुरु होकर इंडिया गेट पर खत्म होता है। इस दौरान तीनों भारतीय सेनाओं (थल, जल, और नभ) द्वारा राष्ट्रपति को सलामी दी जाती है साथ ही सेना द्वारा अत्याधुनिक हथियारों और टैंकों का प्रदर्शन भी किया जाता है जो हमारे राष्ट्रीय शक्ति का प्रतीक है। आर्मी परेड के बाद देश के सभी राज्यों द्वारा झाँकियों के माध्यम से अपने संस्कृति और परंपरा की प्रस्तुति की जाती है। इसके बाद, भारतीय वायु सेना द्वारा हमारे राष्ट्रीय झंडे के रंगों (केसरिया, सफेद, और हरा) की तरह आसमान से फूलों की बारिश की जाती है।

इस दिन स्कूल-कॉलेजों में भी विद्यार्थी परेड, खेल, नाटक, भाषण, नृत्य, गायन, निबंध लेखन, सामाजिक अभियानों में मदद के द्वारा, स्वतंत्रता सेनानियों के किरदार निभा कर आदि बहुत सारी क्रियाओं द्वारा इस उत्सव को मनाते है। इस दिन हर भारतीय को अपने देश को शांतिपूर्णं और विकसित बनाने के लिये प्रतिज्ञा करनी चाहिये। और अंत में हर विद्यार्थी मिठाई और नमकीन लेकर खुशी-खुशी अपने घर को रवाना हो जाता है।

republic day hindi speech

भारत में हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रुप में जाना जाता है जो कि भारत के लोगों द्वारा बेहद खुशी और उत्साह के साथ मनाया जाता है। संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य होने के महत्व को सम्मान देने के लिये इसको मनाया जाता है जो 26 जनवरी 1950 में भारत के संविधान के लागू होने के बाद घोषित किया गया था। इसे ब्रिटीश शासन से भारत की ऐतिहासिक आजादी को याद करने के लिये मनाया जाता है। इस दिन को भारत सरकार द्वारा पूरे देश में राजपत्रित अवकाश के रुप में घोषित किया गया है। इसे पूरे भारत वर्ष में विद्यार्थीयों द्वारा स्कूल, कॉलेजों और शिक्षण संस्थानों में मनाया जाता है।

भारत सरकार हर साल राष्ट्रीय राजधानी, नई दिल्ली में एक कार्यक्रम आयोजित करती है जिसमें इंडिया गेट पर खास परेड का आयोजन होता है। अल-सुबह ही इस महान कार्यक्रम को देखने के लिये लोग राजपथ पर इकट्ठा होने लगते है। इसमें तीनों सेनाएँ विजय चौक से अपनी परेड को शुरु करती है जिसमें तरह-तरह अस्त्र-शस्त्रों का भी प्रदर्शन किया जाता है। आर्मी बैंड, एन.सी.सी कैडेट्स और पुलिस बल भी विभिन्न धुनों के माध्यम से अपनी कला का प्रदर्शन करते है। राज्यों में भी इस उत्सव को राज्यपाल की मौजूदगी में बेहद शानदार तरीके से मनाया जाता है।

26 january speech in hindi

भारत में आजादी के बाद विविधता में एकताके अस्तित्व को दिखाने के लिये देश के विभिन्न राज्य भी खास झाँकियों के माध्यम से अपनी संस्कृति, परंपरा और प्रगति को प्रदर्शित करते है। लोगों द्वारा अपनी तरफ का लोक नृत्य प्रस्तुत किया जाता है साथ ही गायन, नृत्य और वाद्य यंत्रों को बजाया जाता है। कार्यक्रम के अंत में तीन रंगों(केसरिया, सफेद, और हरा) के फूलों की बारिश वायु सेना द्वारा की जाती है जो आकाश में राष्ट्रीय झंडे का चिन्ह् प्रदर्शित करता है। शांति को प्रदर्शित करने के लिये कुछ रंग-बिरंगे गुब्बारों को आकाश में छोड़ा जाता है।

republic day speech in marathi language


हमारी मातृभूमि भारत लंबे समय तक ब्रिटीश शासन की गुलाम रही जिसके दौरान भारतीय लोग ब्रिटीश शासन द्वारा बनाये गये कानूनों को मानने के लिये मजबूर थे, भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा लंबे संघर्ष के बाद अंतत: 15 अगस्त 1947 को भारत को आजादी मिली। लगभग ढाई साल बाद भारत ने अपना संविधान लागू किया और खुद को लोकतांत्रिक गणराज्य के रुप में घोषित किया। लगभग 2 साल 11 महीने और 18 दिनों के बाद 26 जनवरी 1950 को हमारी संसद द्वारा भारतीय संविधान को पास किया गया। खुद को संप्रभु, लोकतांत्रिक, गणराज्य घोषित करने के साथ ही भारत के लोगों द्वारा 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रुप में मनाया जाने लगा।

भारत में निवास कर रहे लोगों और विदेश में रह रहे भारतीयों के लिय गणतंत्र दिवस का उत्सव मनाना सम्मान की बात है। इस दिन की खास महत्वता है और इसमें लोगों द्वारा कई सारे क्रिया-कलापों में भाग लेकर और उसे आयोजित करके पूरे उत्साह और खुशी के साथ मनाया जाता है। इसका बार-बार हिस्सा बनने के लिये लोग इस दिन का बहुत उत्सुकता से इंतजार करते है। गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी एक महीन पहले से ही शुरु हो जाती है और इस दौरान सुरक्षा कारणों से इंडिया गेट पर लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी जाती है जिससे किसी तरह की अपराधिक घटना को होने से पहले रोका जा सके। इससे उस दिन वहाँ मौजूद लोगों की सुरक्षा भी सुनिश्चित हो जाती है।

पूरे भारत में इस दिन सभी राज्यों की राजधानीयों और राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में भी इस उत्सव पर खास प्रबंध किया जाता है। कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रपति दवारा झंडा रोहण और राष्ट्रगान के साथ होता है। इसके बाद तीनों सेनाओं द्वारा परेड, राज्यों की झाकियोँ की प्रदर्शनी, पुरस्कार वितरण, मार्च पास्ट आदि क्रियाएँ होती है। और अंत में पूरा वातावरण जन गण मन गणसे गूँज उठता है।

इस पर्व को मनाने के लिये स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थी बेहद उत्साहित रहते है और इसकी तैयारी एक महीने पहले से ही शरु कर देते है। इस दिन विद्यार्थीयों अकादमी में, खेल या शिक्षा के दूसरे क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करने के लिये पुरस्कार, इनाम, तथा प्रमाण पत्र आदि से सम्मान किया जाता है। पारिवारिक लोग इस दिन अपने दोस्त, परिवार,और बच्चों के साथ सामाजिक स्थानों पर आयोजित कार्यक्रमों में हिस्सा लेकर मनाते है। सभी सुबह 8 बजे से पहले राजपथ पर होने वाले कार्यक्रम को टी.वी पर देखने के लिये तैयार हो जाते है। इस दिन सभी को ये वादा करना चाहिये कि वो अपने देश के संविधान की सुरक्षा करेंगे, देश की समरसता और शांति को बनाए रखेंगे साथ ही देश के विकास में सहयोग करेंगे।

republic day speech in gujarati language


republic day speech in bengali language

 

republic day speech in urdu language


republic day speech in punjabi language


republic day speech in tamil language

 

speech of republic day in telugu


speech of republic day in bengali


speech of republic day in marathi


speech of republic day in malayalam


speech of republic day in sanskrit


Final Words:- 

Thanks for visiting this post about Republic day speech in Hindi, Marathi, Gujarati, Tamil, Telugu, Urdu, Bengali, Malayalam. Hope, you liked our collection of 26 January speech in Hindi, Marathi, Gujarati, Tamil, Telugu, Urdu, Bengali, Malayalam. Feel free to share these Republic day speeches with all of your friends and family.

Also Read:-

Gantantra Diwas Essay, Kavita, Poems, Speech In Hindi

Happy Republic Day Messages - 26 January Message

Short Poem On Republic Day In Hindi - Patriotic, Desh Bhakti Poems

Happy Republic Day Quotes In Hindi - Republic Day Quotes In English

26 January Republic Day SMS In Hindi, English

Happy Republic Day Messages In English - Republic Day Wishes In English

26 January Republic Day Speech In Hindi For School Students

26 January Happy Republic Day Poems In Hindi

26 January Poem On Republic Day For Kids

Short Poems On Republic Day In Hindi & English

Short Speech On Republic Day In Hindi & English

Welcome Speech For Republic Day Celebration

26 January Happy Republic Day Quotes In Tamil, Telugu, Marathi

26 January Happy Republic Day Shayari In Hindi, English

Happy Republic Day Wishes - 26 January Wishes

Republic Day Speech In English For Teachers 2017



Essay On Republic Day In English For Kids Of Class 1-10


Incoming search Terms:-
republic day speech in hindi for school students
republic day speech in marathi pdf
speech in english on republic day
republic speech in english
republic day speech in english for class 5
welcome speech in hindi
welcome speech in english for republic day
republic day speech in hindi 2017
best republic day speech in english
26 january speech in hindi for school
speech in english for republic day
republic day best speech in english
26 january republic day speech in english
welcome speech in hindi pdf
republic day speech in telugu language
republic day speech in marathi language
republic day speech in malayalam language
republic day speech in gujarati language
republic day speech in bengali language
republic day speech in urdu language
republic day speech in punjabi language
republic day speech in tamil language
speech of republic day in telugu
speech of republic day in bengali
speech of republic day in marathi
speech of republic day in malayalam
speech of republic day in sanskrit
best republic day speech in hindi
welcome speech in english
indian republic day speech in english
26january speech in english
republic day speech in telugu pdf
republic day speech in easy language
republic day speech in
republic day speech in easy english
republic day speech in gujarati